'मैंने सपने में भगवान श्रीराम को रोते हुए देखा' पढ़िए, किसने कही ये बात

 

लखनऊ। 'भगवान श्रीराम कल मेरे सपने में आए थे, वो रो रहे थे' यह कहते हुए शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमेन सैयद वसीम रिजवी ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनना चाहिए। रिजवी ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर नहीं बनने से रामभक्तों के साथ खुद प्रभुश्रीराम भी निराश हो गए हैं। 

 
रिजवी ने कहा कि सोमवार की रात्रि सपने में भगवान श्रीराम को विलाप करते देखा। उन्होंने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की बात करते हुए मंदिर विरोधियों पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि 'भारत के कट्टरवादी मुसलमान पाकिस्तानी झंडे को इस्लाम धर्म का झंडा समझकर उससे प्रेम करते हैं और वैसा करने को 'ईमान' समझते हैं। ये मुसलमान राम मंदिर की भूमि पर बाबरी को लेकर विरोध जता रहे हैं। अयोध्या श्रीराम की जन्मभूमि है, मुसलमानों के तीनों खलीफाओं का कब्रिस्तान नहीं। 
 
 
'भगवान श्रीराम भी दुखी हैं'
रिजवी ने आरोप लगाया कि वहाबी मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने पाकिस्तान से पैसे लिए हैं और कांग्रेस की मदद से अयोध्या मामले को उलझाकर कर रखा है। भारत में दंगा करने वाले मुल्लाओं को दंगों में मारे गए लोगों के शव गिनकर ईनाम मिलने का आरोप भी उन्होंने लगाया। उन्होंने कहा कि अयोध्या में भगवान श्रीराम का मंदिर बनाने का निर्णय अब जल्दी से जल्दी से होना चाहिए। अब ऐसा लगता है कि राम भक्तों के साथ खुद भगवान श्रीराम भी दुखी हो गए हैं। 
 

Source : desk