सिद्धार्थनगर :  भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष कुमारी मोनी पांडे ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के किसानों के लिए नया कृषि कानून बनाकर उनके विकास और उन्हें आगे बढ़ाने की चिंता की है जिस पर राष्ट्रीय विरोधी ताकतें कांग्रेस और सपा जो कि आज ट्रैक्टरों पर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा लगाकर कानून का विरोध कर अपनी ओछी मानसिकता को प्रदर्शित कर रहे हैं जिन्होंने कभी भारत माता और वंदे मातरम का जयकारा नहीं लगाया ऐसे लोग ट्रेक्टरों पर राष्ट्रीय ध्वज लगाकर भारतीय संविधान का मजाक उड़ा रहे हैं
भाजपा नेत्री कु. मोनी पांडे ने कहा समाजवादी पार्टी के लोग आज ट्रेक्टरों पर राष्ट्रीय तिरंगा लगाकर रैली निकालकर कानून का विरोध कर रहे हैं वह पहले अपने गिरेबान में झांक कर देखें कि जिन्होंने हमेशा परिवारवाद , जातिवाद की राजनीति की कभी उन्होंने किसानों के विकास की चिंता नहीं की मात्र वोट बैंक की राजनीति करते रहे और पूरे उत्तर प्रदेश को सपरिवार बाद में खड़ा कर विकास के नाम पर प्रदेश की जनता को झूठा गुमराह करते रहे, आज ट्रैक्टर ट्रॉली पर झंडा लगाकर राष्ट्रीय ध्वज का भी अपमानित करने का काम कर रहे हैं कृषि कानून किसानों के फायदेमंद में है राष्ट्र हित में है उनका वही लोग विरोध कर रहे हैं जो किसानों की आड़ में हमेशा उन्हें लूटने का काम करते रहे और अपने निजी स्वार्थ के लिए किसानों को बाधक बना कर उनकी खेती और उनके बिक्री होने वाले अनाजों पर अपना अधिकार जमाते रहे जब मोदी जी ने किसानों के विकास की चिंता की उनके पेट में दर्द चालू हो गया और ट्रैक्टर रैली निकालकर देश के लिए प्राणों की आस छोड़ करने वाले बल धारियों पर भी उन्होंने कठोर आघात करने का काम किया क्या यही कांग्रेस और समाजवादी के राजनीतिक कार्य में लिखा है कि राष्ट्रीय ध्वज का अपमान करना,
भाजपा महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष कु.मोनी पांडे ने कहा 26 जनवरी गणतंत्र दिवस जैसे पावन पर्व पर समाजवादी पार्टी द्वारा जो ट्रैक्टरों पर तिरंगा यात्रा का झंडा लगाकर भारत की स्वतंत्रता पर कीचड़ छोड़ने का कार्य किया है जबकि इस पुण्य कार्य पर जनता के बीच जाकर उन्हें बधाई देना चाहिए थी लेकिन ऐसा नहीं किसानों की आड़ लेकर जिस पर सपा के लोग लंबी राजनीति करने का षड्यंत्र कर रहे हैं और किसानों को भड़का कर मोदी सरकार का विरोध करवा रहे हैं उन्हें मालूम है की कि किसानों की आड़ में मोदी जी का विरोध कर हम फिर प्रदेश और केंद्र में सत्ता हासिल कर लेंगे भारत की 135 करोड़ जनता राष्ट्रीय विरोधी दलों की ऊंची मानसिकता को समझ चुकी है और जो आज दिल्ली में किसान बैठे हैं वह किसान नहीं वो एक राजनीतिक षड्यंत्र के तहत राष्ट्र विरोधी हैं कांग्रेस और सपा के लोग फिर केंद्र और प्रदेश में सत्ता हासिल कर सकें मात्र इस आंदोलन में पंजाब और हरियाणा के ही किसानों के अन्य प्रांतों के किसानों का कोई समर्थन नहीं है जबरजस्ती से इस आंदोलन को तूल दिया जा रहा है
भाजपा नेत्री कु. पांडे ने कहा की गणतंत्र दिवस के दिन दिल्ली में धरना दे रहे वह किसान नहीं थे हिंसा भड़काने का कार्य करने वाले जो कि लोकतंत्र की धज्जियां उड़ा रहे थे और जबरदस्ती तरीके से लाल किले के अंदर घुस कर भारतीय संविधान पर चोट करने की कोशिश की और अपने हाथों से ही ट्रैक्टरों को जलाकर देश की कानून व्यवस्था को ध्वस्त कर रहे थे ऐसे लोगों के खिलाफ कठोर से कठोर कार्रवाई की जानी चाहिए, उग्रवाद पर उतारू हो गए क्या यही आंदोलन का तरीका होता है यूनियन के लोग इस आंदोलन से पल्ला झाड़ते हुए नजर आ रहे हैं
कु .पांडे ने कहा कि 2024 के लोकसभा चुनाव में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और 2022 के उत्तर प्रदेश मैं मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी के नेतृत्व में विकासशील भाजपा सरकार बनेगी कोई भी दुनिया की ताकत नहीं रोक सकती कि जिन्होंने राष्ट्रवाद और देश के विकास के लिए योजनाएं बनाकर जन जन तक पहुंचाने का काम किया है और देश के किसान भी समझ चुके हैं कि यह राजनीतिक पार्टियां हमारा भला नहीं कर सकती हमारा विकास मोदी और योगी जी के नेतृत्व में ही संभव है आज तक किसानों के लिए भरपूर व योजनाएं संचालित करते हुए किसानों को विकास की ओर पहुंचाने का काम किया है